निदेशालय सैनिक कल्याण, छत्तीसगढ़, रायपुर (सैनिक कल्याण निदेशालय) की स्थापना म.प्र.राज्य पुनर्गठन अधिनियम 2000 सैनिक विश्राम गृह, रायपुर परिसर में के प्रावधान के तहत 01 नवंबर 2000 को की गई थी । इसके संगठन के बाद सैनिक कल्याण निदेशालय, सी.जी. छत्तीसगढ़ के युद्ध विधवाओं, आश्रितों और भूतपूर्व सैनिकों के कल्याण और पुनर्वास के लिए ऐतिहासिक निर्णय इस प्रकार हैं: -

(क) मुख्यमंत्री कारगिल फंड से युद्ध या युद्ध जैसी स्थिति में मारे गए सैनिकों के वारिसों/आश्रितों को प्रत्येक को 10-10 लाख रुपये की अनुग्रह राशि:- :-

         (i) श्री पोशागी लाल राजपूत पिता स्वर्गीय स्व धनंजय सिंह राजपूत गांव-रतनपुर, तहसील-कोटा, जिला बिलासपुर । Bilaspur.
         (ii) श्रीमती लोरेंसिया लकड़ा पत्नी स्वर्गीय हवलदार राजेश बारा गांव बारागलोंडा, तहसील और जिला - जशपुर ।
         (iii) श्रीमती माया ध्रुव ग्राम भेंदरी, तहसील - कुरुद, जिला - धमतरी के दिवंगत सिपाही बलराम ध्रुव ।
         (iv) श्रीमती निरमाला बाई निषाद माता स्वर्गीय जीएनआर (ओपीआर) केशव राम निषाद, गांव भवरमारा, तहसील और जिला - धमतरी ।
         (v) श्रीमती कुशुमलता साहू पत्नी स्वर्गीय किशन लाल साहू गांव और पीओ - बालोदगाह, तहसील - गुरुर, जिला दुर्ग ।
         (vi) श्रीमती ज्योति कैवर्त पत्नी स्वर्गीय लांस नायक वीरेंद्र कुमार कैवर्त ग्राम-नरगोड़ा, तहसील मस्तूरी, जिला बिलासपुर ।
         (vii) श्रीमती निशा यादव पत्नीस्वर्गीय नायक कौशल यादव। एड के वीआरसी, एमआईजी -1/608, हुडको, भिलाई, जिला- दुर्ग (छ.ग)।
         (viii) श्रीमती कविता ठाकुर पत्नी स्वर्गीय हवलदार हीराधर प्रसाद ठाकुर गांव जोरातराई, पीओ-भटगांव, तहसील-गुंडरदेही, जिला- दुर्ग (छ.ग.) ।

(ख) ऑपरेशन विजय के शत-प्रतिशत विकलांग सैनिक को 10.00 लाख रुपए की अनुग्रह राशि:-

         (i) पूर्व सिपाही चंद्र सेन अनंत, ग्राम-गिधौरी का निवास, पीओ-नगरगांव मंधार, तहसील और जिला- रायपुर ।

(ग) 13 कारगिल युद्ध पूर्व विधवाओं/आश्रितों को समामेलित विशेष निधि और राज्य बजट से प्रत्येक को 4.80 लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी गई है ।

(घ) 50,000/- रुपये कारगिल युद्ध पूर्व आश्रित श्रीमती लक्ष्मी बाई माता स्वर्गीय सितंबर राजा राव को समामेलित विशेष निधि से दिया गया है ।

(ड.) वीरता पुरस्कार विजेताओं को नकद पुरस्कार प्रदान करना :-

         (i) 23000/- रुपये कर्नल हरीश अरोड़ा, एसएम, 14-बी, शैलेंद्र नगर, रायपुर (छ.ग.)
         (ii) 23,000/- रुपये स्वर्गीय सितंबर सुरजीत सिंह, एसएम, एमआईजी -50, कालीबाड़ी मंदिर चौक, हाउसिंग बोर्ड, भिलाई, जिला-दुर्ग (छ.ग.)
         (iii) 23,000/- रुपये लेफ्टिनेंट कर्नल प्रणब कुमार लहरी, एसएम, ए-36, शंकर नगर, रायपुर (छ.ग.)
         (iv) 23,000/- रुपये मेजर संजीव कुमार मंडल, एसएम ऑफ 1032/1 आर.टी.एस. कॉलोनी, बिलासपुर (छ.ग.)
         (v) 23,000/- रुपये स्वर्गीय सितंबर बलराम ध्रुव, एसएम ऑफ विले एंड पीओ - ​​भेंदरी, तेह और जिला - धमतरी (छ.ग.)
         (vi) 23,000/- रुपये कैप्टन विनीत बाजपेयी, एसएम ऑफ ग्राम-सदर बाजार, पीओ और जिला-बिलासपुर (छ.ग.)
         (vii) 57,000/- रुपये विंग कमांडर अतनु गुरु, बोहिदार पारा के वीआरसी, तेह-रायगढ़, जिला-रायगढ़ (छ.ग.)
         (viii) 23,000/- रुपये मेजर सुदीप कुमार मिश्रा, एसएम, 40/372, हट्रीपारा वार्ड, पुरानी बस्ती, रायपुर (छ.ग.)
         (ix) 34,000/- रुपये कर्नल हरिंदर सिंह, वाईएसएम, 5/18 के एसएम, नेहरू नगर (पश्चिम) एसएएफ लाइन्स, भिलाई, जिला दुर्ग (छ.ग.)
         (x) 23,000/- रुपये जीपी कैप्टन पी.एम. विट्ठलकर, वाईएम सी-5, पारिजात कॉलोनी, नेहरू नगर, अमेरी रोड, बिलासपुर (छ.ग.)
         (xii) 23,000/- रुपये एसएम मेजर विनीत बाजपेयी, राजातालब,रवि नगर, रायपुर (छ.ग.)
         (xiii) 23,000/- रुपये एसएम मेजर अमोल मोने, ईडब्ल्यूएस-77 वैशाली नगर भिलाई (छ.ग.)

(च) रक्षा सेवा कर्मियों (जंगी इनाम) के माता-पिता को नकद भत्ता प्रदान करना । वित्तीय वर्ष 2017-18 के रूप में रक्षा सेवा कार्मिक के माता-पिता को कुल राशि 5,25,000/- (रुपये 5000/- प्रत्येक) का भुगतान किया गया है ।

(छ) द्वितीय विश्व युद्ध के गैर पेंशनभोगी को वित्तीय सहायता । द्वितीय विश्व युद्ध के गैर-पेंशनभोगियों को वित्तीय सहायता 2000/- रुपये प्रति माह से बढ़ाकर 6000/- रुपये प्रति माह जनवरी 2018 तक कर दी गई है ।

(ज) पहली राज्य स्तरीय भूतपूर्व सैनिक रैली का आयोजन 17 मार्च 2007 को रायपुर में किया गया ।

(झ) प्रथम रक्षा पेंशन अदालत का आयोजन 28 और 29 जुलाई 2008 को रायपुर में किया गया ।


सैनिक विश्राम गृह

         1. छत्तीसगढ़ राज्य के रायपुर, बिलासपुर, दुर्ग, राजनांदगांव तथा जशपुर में सैनिक विश्राम गृह की सुविधा उपलब्ध है ।